UP TET 2023 : सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से यूपी टीईटी के 600000 अभ्यर्थियों को तोहफा सुनाया भर्ती का बड़ा फैसला

UP TET 2023 : बीटीसी बनाम बीएड (बीएड बनाम बीटीसी) मामले में सुप्रीम कोर्ट (बीएड बीटीसी सुप्रीम कोर्ट) ने बड़ा फैसला सुनाकर बीएड अभ्यर्थियों को बड़ा झटका दिया है। हालांकि इस बीच यूपीटीईटी अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है. आपको बता दें कि फैसला (सुप्रीम कोर्ट जजमेंट ऑन बीएड बनाम बीटीसी) सुनाते हुए राजस्थान हाई कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। हालांकि, इसके बाद यूपी टीईटी (UP TET 2023) के कई अभ्यर्थी खुश भी दिखे. दरअसल, लाखों यूपीटीईटी अभ्यर्थी लंबे समय से सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे थे, जहां जैसे ही सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में अपना फैसला सुनाया, भर्ती (यूपीटीईटी शिक्षक भारती) का रास्ता साफ हो गया। आइए जानते हैं क्या है पूरी खबर और कैसे मिला उम्मीदवारों को तोहफा…

अभ्यर्थियों को एक  ही प्रमाणपत्र मिलेगा.

यूपी टीईटी 2021 (यूपी टीईटी) में शामिल होने वाले अभ्यर्थी काफी समय से सर्टिफिकेट (यूपी टीईटी सर्टिफिकेट) को लेकर परेशान थे। आपको बता दें कि जब सुप्रीम कोर्ट ने बीटीसी बनाम बीएड मामले में अपना फैसला सुनाया तो इन अभ्यर्थियों के चेहरे खुशी से खिल उठे. जब सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया तो यह साफ हो गया कि अभ्यर्थियों के प्रमाणपत्र (यूपी टीईटी सर्टिफिकेट) प्रयागराज मुख्यालय परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने रोक रखे थे, अब इस फैसले के बाद उन सभी अभ्यर्थियों को प्रमाणपत्र वितरित किए जाएंगे।

सर्टिफिकेट (UP TET सर्टिफिकेट इश्यू) रोक दिया गया।

प्रयागराज मुख्यालय परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने यूपीटीईटी 2023 (UP TET 2023) में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को प्रमाण पत्र का वितरण रोक दिया था. हम आपको सूचित करते हैं कि राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा प्राथमिक शिक्षक भर्ती के लिए केवल बीटीसी (बीटीसी) डिप्लोमा वाले उम्मीदवारों को ही पात्र माना जाता है। जहां मामला बाद में सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया, मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचने के बाद प्रयागराज मुख्यालय परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने तक प्रमाण पत्र वितरण पर रोक लगा दी.

UP TET प्रमाणपत्र मिलेगा इन अभ्यर्थियों को-

आयोग द्वारा आयोजित यूपी टीईटी 2021 (यूपी टीईटी) में कुल 6,60,592 अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए। बता दें कि यह परीक्षा दो स्तरों पर आयोजित की गई थी। जिसमें पहला स्तर प्राथमिक और दूसरा उच्च प्राथमिक था। प्राथमिक स्तर में 11,47,090 अभ्यर्थी शामिल हुए। जहां इन उम्मीदवारों में से 6.91 लाख से ज्यादा उम्मीदवार B.Ed डिग्री धारक थे और 4.55 उम्मीदवार D.El.Ed सर्टिफिकेट धारक थे. वहीं, अगर परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों की बात करें तो परीक्षा नियामक प्राधिकारी (ईआरए) के आंकड़ों के मुताबिक, करीब 2.20 लाख बीएड अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण माना गया है. जबकि 2.23 लाख डीएलएड अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण माना गया। इसके साथ ही उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या 7,65,921 थी. जिनमें से 2,16,994 अभ्यर्थी उत्तीर्ण घोषित किये गये।

परीक्षा का आयोजन इसी महीने  किया गया था –

UP TET 2021 का आयोजन इसी साल के जनवरी के माह में किया गया है। बता दें कि आयोग ने 23 जनवरी 2023 को परीक्षा आयोजित की थी। वहीं, परीक्षा के करीब ढाई महीने बाद यानी 8 फरवरी 2023 को आयोग ने यूपीटीईटी 2021 का रिजल्ट घोषित कर दिया था। परीक्षा प्राथमिक और उच्च प्राथमिक दोनों स्तरों पर आयोजित की गई थी, जिसमें लाखों उम्मीदवार शामिल हुए थे।

सभी खबरो की अपडेट पाने वाले पहले व्यक्ति बनें –

हमारी इस वेबसाइट पर हर जरूरी खबर और आपके काम का अपडेट उपलब्ध है। रोजगार से जुड़ी खबरें हों या योजनाओं से जुड़ी जानकारी, हर अपडेट और हर खबर आपको हमारी वेबसाइट पर मिलेगी। यदि आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई समाचार प्रकाशित करें तो आपको सूचित किया जाए, तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं, जो इस पोस्ट के नीचे हरी पट्टी में जुड़ा हुआ है। आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट की सबसे तेज़ और पहली सूचना प्राप्त कर सकते हैं। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको हर खबर का नोटिफिकेशन सबसे तेज मिलता है और आप अपने काम की कोई भी महत्वपूर्ण खबर मिस नहीं करते हैं।

Scroll to Top