Wireless Bijli: अब हर घर में बिना तार के आएगी बिजली, खोजी गई ये तकनीक

Power Supply Without Wire : बिना तार के हर घर तक बिजली पहुंचने से महज एक कदम दूर है. अब वह दिन दूर नहीं जब दुनिया में वायरलेस बिजली उपलब्ध होगी। इस संबंध में प्रयोग सफल रहा है.

वायरलेस बिजली: एक नई यात्रा की शुरुआत… आपने सही सुना, वायरलेस इंटरनेट के बाद अब वायरलेस बिजली की बारी है। वायरलेस बिजली पर विज्ञान और प्रौद्योगिकी में एक नई अवधारणा के रूप में शोध किया जा रहा है और इस प्रक्रिया में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। यह प्रौद्योगिकी सहायता के साथ-साथ सुरक्षित और टिकाऊ तरीके से बिजली आपूर्ति का एक प्रमुख साधन बन सकता है।

अमेरिका के लिए वायरलेस बिजली यात्रा का सफल परीक्षण

वैज्ञानिकों ने वायरलेस पावर तकनीक का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है, और यूनाइटेड स्टेट्स नेवल रिसर्च लेबोरेटरी (एनआरएल) अमेरिका के मैरीलैंड में एक किलोमीटर की दूरी पर 1.6 किलोवाट बिजली की आपूर्ति करने में सफल रही है। इस तकनीक में एक माइक्रोवेव बीम का उपयोग किया जाता है, जो बिजली को माइक्रोवेव में परिवर्तित करता है, और फिर बिजली एक रेक्टेना तत्व से बने रिसीवर द्वारा प्राप्त की जाती है। यह एक सरल एवं प्रभावी तरीका है, जिससे बिना तार के बिजली आपूर्ति करने में सफलता प्राप्त की जा सकती है।

अमेरिकी नौसेना अनुसंधान प्रयोगशाला के अनुसार, इस तकनीक ने सरल होते हुए भी यह साबित कर दिया है कि यह किलोमीटर की दूरी पर भी बिजली की आपूर्ति कर सकती है। इस प्रयोग के बावजूद, वैज्ञानिक इस तकनीक के अधिक महत्वपूर्ण और व्यावसायिक अनुप्रयोगों का पता लगाने के लिए काम कर रहे हैं।

अमेरिका के प्राचीन वैज्ञानिक एवं टेस्ला की परिकल्पना

वायरलेस बिजली की कल्पना 150 साल पहले निकोला टेस्ला ने की थी। उन्होंने अपने ‘टेस्ला कॉइल’ नामक ट्रांसफार्मर सर्किट के माध्यम से तारों के बिना बिजली की आपूर्ति करने के शुरुआती प्रयोग किए। हालाँकि वह यह साबित नहीं कर सके कि वह लंबी दूरी तक बिजली की किरण को नियंत्रित करने में सक्षम थे, वैज्ञानिक अभी भी उनकी परिकल्पना को पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं।

इसे पढ़े : Chanakya Niti : ये होती है चरित्रहीन महिलाओं की पहचान, यकीन न हो तो खुद ही आजमा कर देख लीजिए. –

Scroll to Top